Constitution / Day


One night as I was at a shop, another customer (unknown/stranger) came. I could sense or say it was evident that he had already alcohol/drinks.

As the casual talk began, and background, I spontaneously said to him “ You are from North /part of Karnataka!” He was positively surprised and exclaimed in the open “yes, but how did you know?”. I smiled and moved on to the overall things.

The Constitution topic came. I was just observing and based on happenings, societies etc. I said what constitution! Just name sake and printed  that’s it!

How many follow!?

The person positively instantaneously affirmatively respectfully and genuinely convincingly said, “No,” “There’s Constitution. It’s because of the Constitution that nobody can just come or even touch you. let alone harm you!”

I was happy that people are aware and respect the Constitution and know the very significance. Even a lay man, even half drunk, part drunk or whatever not, did/doesn’t matter; even he knows it and irrespective of drink/time, but very consciously.


Yes, that’s the Constitution for You, Me, and all in this country.

It’s our duty to respect it.

Samvidhan = Sama Vidhān

Sambidhaan=Sama Bidhaan

संविधान= सम् विधान

ସମ୍ବିଧାନ= ସମ ବିଧାନ

ಸಂವಿಧಾನ= ಸಮ ವಿಧಾನ

(And all languages scripts…)

#ConstitutionDay #Equality

Constitutes Nation.

संविधान दिवस

– © PRABEEN KUMAR PATI

॰ प्रबीण कुमार पति ॰

ITI वारदात कोरोना “हनीमून का परिणाम: कोरोना” इटली से इंडिया तक Fiction Irony on CoronaVirus Italy to India


वारदात: साल: २०२० महीना: मार्चनई दम्पत्ति।Dream Destination Honeymoon: Italy.

“पति कोरोना से बिमार।
संक्रमित पत्नी को जानकारी
तो शादी के क़ऱार को कर दरकिनार
लखपति को छोड़ वो पत्नी फ़राऱ।

पति पत्नी और करोना!

अपराधी कौन?
Corona पीड़ित पति या
गौर फरमाएं: Dream Company Job: Gugle लकपती करोड़पति
या Corona संक्रमित भगोड़ी पत्नी?
भीगी बिल्ली आग्रा चली।

Kar State Police का छापा।
चप्पा-चप्पा रेल ओ विमान पे छापा।

आखिर कार पति का कोरोना
ने बतादिया अपने साथी का ठिकाना।
पकड़े जाने पर जब गुस्से से लाल पीली
आग बबूली रोती बिलबिलाती आरोपी पत्नी
कोरोना पर चीखी चिल्लाई।

कोरोना ने भी झाड़ दिया उस पर क़हर
अब काहे का रोना?
साफ़ सूतरी रहती तो
हनीमून मोह माया छोड़ती तो
करोना करोना ना बोलती
ना आती मैं कोरोना,
ना इतना होता रोना धोना।
बस कुछ ना मिले तो
बस कोरोना कोरोना!”

सुत्र के हवाले से पता चला है:
“आरोपी पत्नी को आगरा के अस्पताल में भर्ती कीया जा चुका है। वो भी आगरा के मश़हूर पागल खाने में।
पूछताछ में बताया जा रहा है कि आरोपी पत्नी ने कोरोना पति पर दूसरों (संक्रमित) के ग़लत संपर्क संपर्ष में आ चुके थे ऐसा आरोप लगाया है। पत्नी को श़क हुआ था। पर वो करीना या करीना सोच रही थी, पर यह तो कोई नयी करोना कोरोना निकली!…
इस नए मोड़ से यह तो कोई लभ त्रिकोण लग रहा है।कुछ लोगों का कहना और मानना है कि यह तो लभ जिहाद का ही काम है लग रहा है! कोरोना जिहाद।कुछ लोगों का तो यहां तक कहना है कि यह विदेशी संक्रमण नहीं वल्कि उन विदेशी ताकतों का देश पर एक सोचा-समझा आक्रमण है! वल्कि इटली।
इटली वोखला चुकी है। इस को भारत देश में फिर से सत्ता चाहिए।…”
हमारे दर्शकों को क्या लगता है? कृपया इस फोन पर मिस्ड कॉल द्वारा वोट करें।हयासटयाग ज़रूर करें।
सूचना: दी गई है कि यह घटना काल्पनिक है। आंशिक सामंजस्य रह सकता है सत्य घटनाओं से। खेद प्रकट किया जाता है। वारदात या किसी भी टीम जिम्मेवार नहीं है। ना दायित्व लेती है। इस प्रकरण में किसी भी जानवर या अन्य किसी भी प्राणी पक्षी या जीव को कोई भी हानी पहूंचाया नहीं गया है। यह तो बस कोरोना ही है।
करोना, भरोना

संपर्क में ना आएं या रहें।

ना संक्रमित रहें।
ना आतंकित रहें।

सतर्क रहें।
सुरक्षित रहें।

जय हिन्द।।

Fiction News. Ironism. Satire.

© प्र प र
प्र ख र

© PP

ITI Corona वारदात कोरोना “हनीमून का परिणाम: कोरोना” इटली से इंडिया तक Fiction Irony on CoronaVirus Italy to India


वारदात: साल: २०२० महीना: मार्चनई दम्पत्ति।Dream Destination Honeymoon: Italy.

“पति कोरोना से बिमार।
संक्रमित पत्नी को जानकारी
तो शादी के क़ऱार को कर दरकिनार
लखपति को छोड़ वो पत्नी फ़राऱ।

पति पत्नी और करोना!

अपराधी कौन?
Corona पीड़ित पति या
गौर फरमाएं: Dream Company Job: Gugle लकपती करोड़पति
या Corona संक्रमित भगोड़ी पत्नी?
भीगी बिल्ली आग्रा चली।

Kar State Police का छापा।
चप्पा-चप्पा रेल ओ विमान पे छापा।

आखिर कार पति का कोरोना
ने बतादिया अपने साथी का ठिकाना।
पकड़े जाने पर जब गुस्से से लाल पीली
आग बबूली रोती बिलबिलाती आरोपी पत्नी
कोरोना पर चीखी चिल्लाई।

कोरोना ने भी झाड़ दिया उस पर क़हर
अब काहे का रोना?
साफ़ सूतरी रहती तो
हनीमून मोह माया छोड़ती तो
करोना करोना ना बोलती
ना आती मैं कोरोना,
ना इतना होता रोना धोना।
बस कुछ ना मिले तो
बस कोरोना कोरोना!”

सुत्र के हवाले से पता चला है:
“आरोपी पत्नी को आगरा के अस्पताल में भर्ती कीया जा चुका है। वो भी आगरा के मश़हूर पागल खाने में।
पूछताछ में बताया जा रहा है कि आरोपी पत्नी ने कोरोना पति पर दूसरों (संक्रमित) के ग़लत संपर्क संपर्ष में आ चुके थे ऐसा आरोप लगाया है। पत्नी को श़क हुआ था। पर वो करीना या करीना सोच रही थी, पर यह तो कोई नयी करोना कोरोना निकली!…
इस नए मोड़ से यह तो कोई लभ त्रिकोण लग रहा है।कुछ लोगों का कहना और मानना है कि यह तो लभ जिहाद का ही काम है लग रहा है! कोरोना जिहाद।कुछ लोगों का तो यहां तक कहना है कि यह विदेशी संक्रमण नहीं वल्कि उन विदेशी ताकतों का देश पर एक सोचा-समझा आक्रमण है! वल्कि इटली।
इटली वोखला चुकी है। इस को भारत देश में फिर से सत्ता चाहिए।…”

जांच में यह भी सामने आया है कि पति को करोना संक्रमण करना तो आरोपी पत्नी की ही साज़िश थी। लेकिन कुदरत का ऐसा क़हर कि आरोपी पत्नी खूद ही करोना की शिकार बन गई है।


हमारे दर्शकों को क्या लगता है? कृपया इस फोन पर मिस्ड कॉल द्वारा वोट करें। हयासटयाग ज़रूर करें।
सूचना: दी गई है कि यह घटना काल्पनिक है। आंशिक सामंजस्य रह सकता है सत्य घटनाओं से। खेद प्रकट किया जाता है। वारदात या किसी भी टीम जिम्मेवार नहीं है। ना दायित्व लेती है। इस प्रकरण में किसी भी जानवर या अन्य किसी भी प्राणी पक्षी या जीव को कोई भी हानी पहूंचाया नहीं गया है। यह तो बस कोरोना ही है।
करोना, भरोना

संपर्क में ना आएं या रहें।

ना संक्रमित रहें।
ना आतंकित रहें।

सतर्क रहें।
सुरक्षित रहें।

जय हिन्द।।

Fiction News. Ironism. Satire.

© प्र प र
प्र ख र

ख ब र



© PP

Love Thou, Love Thy Intestines


Happy Valentine’s!
First Keep Healthy Intestines.
Love You. Love Thy Intestines.
Like Love, immaterial is Large or Small.

Happy #Valentine’s!
First Keep #Healthy #Intestines.

Like Love, immaterial is Large or Small.
Intestines Fit है तो
Heart भी fit.
Love Super Duper Hit.
Health is Wealth. Love Your Health.
Jan Feb गण हित में जारी 🙏

Love You. Love Thy Intestines.

© Prabeen Kumar Pati

Delhi इलेक्शन Campaign Slow Gaan Slogan


What about Delhi #Election Campaign? Any Party?

Delhi इलेक्शन Campaign नारा Slow Gaan Slogan ऐसा हो तो!?

“दिल्ली हम को हारनी है, केजरीवाल को लानी है”
“जितना भी करो बवाल, अब की बार केजरीवाल”
“मोदी शाह पर उठाओ सवाल, पर वोट अरविंद केजरीवाल”


“बटन तो उँगली से दवानी है, उसके लिए तो हाथ होनी है”
“Voting in Progress, Vote For Congress”

“गंदा धंदा नहीं चलेगा, इकॉनमी में मंदी नहीं चलेगा”

“नोट हमेशा check कर, वोट दो check कर”

“इलेक्शन बन जाता है नौटंकी, सरकार बने किसी की”


Deja Vu: “Elections में DJ भी, सरकार हो BJP”
“केंद्र ही तो दिल है, सेंटर ही तो दिल्ली है”
“दिल में जो है, ज़ुबान पे भी वो हो, केंद्र में जो सरकार हो, दिल्ली में भी वो ही सरकार हो।”
“वोट कभी भी, पार्टी बीजेपी”
“दिल्ली को क्या दरकार? मोदी-शाह वाला सरकार।”


~ पी॰पी॰

© कवि प्रवीण कुमार पति

© Prabeen Kumar Pati

दिखे सूर्यास्त, पर ना परास्त


“डूबता सूरज
जो कभी
डूबता ही नहीं।
दिखे तो यह सूर्यास्त,
पर ना कभी परास्त।”
© कवि प्रवीण कुमार पति

“Ghana Ghana Tivr Hai Prem Ka Prahaar” My Raw Original “घन घन तीव्र है प्रेम का प्रहार”


My Raw Original on the fly composition “Ghana Ghana Tivra Hai Prem Ka Prahaar”

घन घन तीव्र है प्रेम का प्रहार

घन घन तीव्र है

घन घन तीव्र है
घन घन तीव्र है
प्रहार।

घन घन तीव्र है (३)
प्रहार

प्रेम का प्रहार (३)

तीव्र है प्रहार (२)

यह प्रेम का प्रहार (२)

The Biggest Power/Shakti in the entire Universe is the Power of Prem/Love.

© Prabeen Kumar Pati

© प्रबीण कुमार पति

गणपति कण कण गण गण


ॐ नमो गणेशाय गणपतये
        🙏नमो नमः।🙏
      कण कण गण गण
भक्त पति नमस्तुते प्रति क्षण

~ प्रबीण कुमार पति

कण कण गण गण

bhakti Mantra & Vandana & Prarthana

from Prabeen Kumar Pati

to Lord Ganesha Ganapati

~ Prabeen Kumar Pati

ଓଁ ଗଣ ଗଣ ଗଣେଶାୟ ନମୋ ନମଃ

© Prabeen Kumar Pati

© प्रबीण कुमार पति

~ ©PP. Prabeen Kumar Pati. PSquare

कश्ती ज़िंदग़ी की


“वो कुछ सोचते थे

हम कुछ सोचते थे

ज़िंदग़ी की कश्ती में

हम रोज़ बहा करते थे।”

प्रबीण कुमार पति
Prabeen Kumar Pati

© Prabeen Kumar Pati

© प्रबीण कुमार पति

UD CHALAA “उड़ चला”


हो उड़ चला

उड़ चला

तेरी कमी से

उड़ चला ;

उड़ चला

हो उड़ चला

ख़्वाबों को पूरे करने

यह उड़ चला

यह उड़ चला

यह उड़ चला ।

मंज़िल कहाँ हे

ढूंढे उसे वो

मंज़िल कहाँ हे
ढूंढे उसे वो

कहाँ कैसे

उड़ चला …

‘उड़ चला

उड़ चला

उड़ चला’। (३)

~ प्रबीण कुमार पति
My Raw Original First on the fly: “उड़ चला ” Ud Chalaa…
True Freedom. #Selfly!

© Prabeen Kumar Pati

© प्रबीण कुमार पति